शिमला के शोघी में हादसा, 6 लोग घायल       अंतरराष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण दिवस पर कार्यकर्म आयोजित कर लोगो को किया गया जागरूक         12वीं की छात्रा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, समस्त परिवारजन सदमे में       आज है शरद पूर्णिमा; क्या है शरद पूर्णिमा का महत्व ? जानिए !       मंडी से चंडीगढ़ जा रही एचआरटीसी बस में सवार युवक से चरस बरामद       रविवार का पंचांग: 13 अक्टूबर 2019; जानिए आज का शुभ मुहूर्त       आज का राशिफ़ल: 13 अक्टूबर 2019; जानिए कैसा रहेगा आपका दिन       ओच्छघाट सोलन के गड़ोग गांव में की जा रही थी भांग की खेती, एक किसान गिरफ्तार       लाखों की नकदी व जेवर चोरी मामले में आरोपी गिरफ्तार       इंजीनियरिंग के एक छात्र की चिट्टे की ओवरडोज से मौत      

मनोरंजन

इस कंटेस्टेंट ने बताया टॉयलेट रोकने का आसान तरीका, अमिताभ बच्चन भी हुए हैरान

October 03, 2019 07:44 AM

2 अक्टूबर को प्रसारित हुए केबीसी के खास एपिसोड की शुरुआत अमिताभ बच्चन ने 'गांधी को अगर समझना है तो खुद गांधी बनकर देखो' कविता के साथ की. केबीसी के इस खास एपिसोड में भारत के कर्मवीरों ने एंट्री की। हिंदुस्तान के अलावा कई अलग देशों में भी स्वच्छता की मुहिम छेड़ चुके डॉ. बिंदेश्वर पाठक आज के एपिसोड में कर्मवीर के रूप में हॉटसीट पर बैठे। उनके अलावा एक और मेहमान के तौर पर आशीष सिंह भी केबीसी के स्टेज पर पहुंचे। आशीष ने महज 6 महीने में इंदौर का कई सौ मीट्रिक टन कूड़ा उठवाया और सबसे स्वच्छ शहर बना दिया था। आशीष ने डॉ. बिंदेश्वर पाठक के साथ मिलकर काफी सालों से काम किया है । खास बात ये है कि बिंदेश्वर पाठक ने सुलभ इंटरनेशनल मिशन की शुरुआत भी की है।

फ़ोटो सोर्स: सोनी टीवी

डॉ पाठक ने बताई प्रेशर से निजात पाने की अनोखी तकनीक

डॉ पाठक ने इसके अलावा एक बेहद दिलचस्प तरीके के सहारे ये भी बताया कि अगर इमरजेंसी स्थिति आ गई हो और आपको लगी हो और आसपास कोई भी पब्लिक टॉयलेट मौजूद ना हो तो इस एक तकनीक के सहारे आप टॉयलेट को रोक सकते हैं. उन्होंने कहा कि अपने बाएं हाथ में सबसे छोटी उंगली की तरफ से अपने हाथों को एक्यूपंचर के तरीके से दबाने की कोशिश करें और एंटी क्लॉक वाइस दिशा में चलते हुए एक स्कवॉयर को पूरा करते हुए पूरी हथेली को कवर कर लें। इससे प्रेशर में काफी फर्क पड़ेगा।

फ़ोटो सोर्स: सोनी टीवी
गौरतलब है कि अमिताभ ने शो के दौरान इस तकनीक की प्रैक्टिस की. उन्होंने इस तकनीक को दर्शकों के साथ भी साझा किया. इससे पहले उत्तर प्रदेश में जन्मीं अमला रुइया कर्मवीर के तौर पर पहुंची थीं. वे राजस्थान के 518 से ज्यादा गांवों की किस्मत बदल चुकी हैं. अमला को 1999, 2000 और 2003 के सूखे और अकाल ने झंकझोर कर रख दिया था जिसके बाद उन्होंने 'आकार चैरिटेबल ट्रस्ट' की स्थापना की. अमला ने वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम से ढेरों चेक डैम बनाए जिन्होंने 2 लाख से ज्यादा लोगों की पानी की समस्या हल कर दी. अमला एक अखबार में खबर पढ़ने के बाद राजस्थान पहुंची थीं।

Have something to say? Post your comment

मनोरंजन में और

अमिताभ बच्चन के 77वें जन्मदिन पर बॉलिवुड सिलेब्रिटीज ने दी बधाई

23 साल के लड़के ने 91 साल की महिला से रचाई शादी, हनीमून के दौरान हुआ ये कांड

अमर स्नेह पुनः एक्शन में, इस फिल्म के लिए किया अनुबंध

KBC 11: सोनाक्षी सिन्‍हा नहीं जानती इस आसान सवाल का जवाब, लोग कर रहे हैं जमकर ट्रोल

62 की उम्र में 32 के दिखते हैं अनिल कपूर, इस डाइट में छिपा है रा

लता के नकल न करने की सलाह पर बोली रानु मंडल, कहा- वह मुझसे उम्र में बड़ी हैं, पर लता मंगेशकर ने भी कही दी ये बड़ी बात!

क्या सलमान खान ने रानू मंडल को गिफ्ट किया है 55 लाख रुपए का घर ?

हिमेश रेशमिया के स्टूडियो पहुंचने पर रानू मंडल को गाने में किन-2 चुनौतियों का करना पड़ा सामना देखिए ये पूरा वीडियो...

शाहरुख खान ने फोड़ी दही हांडी, कुछ इस अंदाज में मनाई जन्माष्टमी !

बिग बॉस विनर शिल्पा शिंदे ने ने दिया ये बड़ा बयान, बोलीं- मुझे पाकिस्तान जाने से कोई रोककर दिखाएं!