हिंदी ENGLISH E-Paper Download App Contact us Saturday | February 22, 2020
शिमला में धूम धाम से मनाया जा रहा शिवरात्रि का पर्व, मन्दिरो में जूटी भक्तो की भीड़       विश्व धरोहर पर फिर दौड़ा स्टीम इंजन, इंग्लैंड के 29 सैलानियों ने किया सफर       आज का राशिफ़ल: 21 फरवरी 2020; महाशिवरात्रि पर राशि अनुसार करें शिव मंत्र का जाप, मिलेंगे शुभ फल       हिमाचल प्रदेश में "सस्ती होगी शराब" का विरोध करने से पहले जानिए क्या है नई आबकारी नीति ? इस आबकारी नीति से कैसे बढ़ेगा प्रदेश का राजस्व ? पढ़े, ये खबर..!       शिक्षा विभाग में बंपर भर्तियां, भरे जाएंगे 1807 पद..       राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को शिवरात्रि की बधाई दी       निर्णय लेते समय सोशल मीडिया पर निर्भर न रहें युवाः सुरेश भारद्वाज       महँगाई कम करने के बजाय सरकार नशे को कर रही प्रमोट: युवा कांग्रेस       चीन में फैले कोरोना वायरस के बीच पांच चीनी पहुंचे शिमला, पांचों की की गई स्वास्थ्य जांच, CMO में कहा शहर वासियों को नहीं घबराने की जरूरत।       स्वास्थ्य देखभाल सुविधा के लिए वरदान बनी हिमकेयर योजना      

हिमाचल | शिमला

शिमला में प्याज के बाद अब टमाटर हुआ 'लाल', एक किलो के देने पड़ रहे इतने रुपये

October 09, 2019 10:07 PM

शिमला: प्‍याज के बाद टमाटर की कीमतों में आग लगी है। नवरात्रि में 30 से 40 रुपए किलो मिलने वाले टमाटर की कीमतें दोगुनी हो गई हैं। हालांकि सरकार ने प्याज की महंगाई पर एक्‍सपोर्ट बंद कर तो लगाम लगा दिया, लेकिन अब टमाटर के दाम बेकाबू हैं।

बीते 10 दिन में प्रदेश की राजधानी शिमला में टमाटर का दाम डेढ़ गुना बढ़ गया है जबकि एक पखवारे में टमाटर का भाव दोगुने से भी ज्यादा हो गया है। लोगों को एक किलो टमाटर के लिए 80 रुपये से ज्यादा भाव चुकाना पड़ रहा है, जबकि एक पखवारे पहले शिमला में टमाटर 30-40 रुपये किलो मिल रहा था।

निर्यात पर रोक

प्याज के दाम को काबू करने के लिए सरकार ने जब से इसके निर्यात पर रोक लगाई है और थोक-खुदरा कारोबारियों के लिए स्टॉक की सीमा तय की है, तब से प्याज का भाव गिरा है।

बारिश से टमाटर को नुकसान

कारोबारियों ने बताया कि मानसून सीजन के आखिर में देशभर में हुई भारी बारिश के कारण टमाटर की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है।

गौरतलब है कि शिमला में पैट्रोल और प्याज के दामों पछाड़ कर टमाटर आम जनता की पहुंच से बाहर होता जा रहा है। टमाटर के दाम में बीते 4 दिन में दोगुना इजाफा हुआ है। बीते सप्ताह 30 से 40 रूपये प्रतिकिलो बिकने वाला टमाटर 80 रुपये प्रतिकिलो मिल रहा है। प्रदेश में अधिकतर सब्जियां महंगी होने से आम जनमानस को महंगाई सताने लगी है।

सरकार महंगाई रोकने में नाकाम, जनता परेशान

शिमला के सब्जी मंडी सब्जी खरदीने आए उपभोक्ताओं ने कहा कि अब महंगाई का आलम यह है कि किलो की बजाये अब ग्राम में सब्जियां खरीदनी पड़ रही है। उपभोक्ताओं का कहना कि एक तरफ त्योहार का सीजन दूसरी तरफ महंगी सब्जियां कैसे घर परिवार को चलाएं। गृहणियां का आरोप है कि सरकार महंगाई को लेकर गंभीर नहीं है।

महंगाई पर रोक लगाने के लिए सरकार कोई कदम नहीं उठा रहा है। लोगों को महंगी सब्जियां खरदीने के लिए मजबूर किया जा रहा है। उपभोक्ताओं का आरोप है कि खाद्य सामग्री की जमाखोरी करने से दाम बढ़े हैं। बड़े व्यापारी जानबूझ कर जमाखोरी कर रहे है और केंद्र और प्रदेश सरकार मूक दर्शक बनी हुई है।

Have something to say? Post your comment

हिमाचल में और

शिमला में धूम धाम से मनाया जा रहा शिवरात्रि का पर्व, मन्दिरो में जूटी भक्तो की भीड़

विश्व धरोहर पर फिर दौड़ा स्टीम इंजन, इंग्लैंड के 29 सैलानियों ने किया सफर

हिमाचल प्रदेश में "सस्ती होगी शराब" का विरोध करने से पहले जानिए क्या है नई आबकारी नीति ? इस आबकारी नीति से कैसे बढ़ेगा प्रदेश का राजस्व ? पढ़े, ये खबर..!

शिक्षा विभाग में बंपर भर्तियां, भरे जाएंगे 1807 पद..

राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को शिवरात्रि की बधाई दी

निर्णय लेते समय सोशल मीडिया पर निर्भर न रहें युवाः सुरेश भारद्वाज

महँगाई कम करने के बजाय सरकार नशे को कर रही प्रमोट: युवा कांग्रेस

चीन में फैले कोरोना वायरस के बीच पांच चीनी पहुंचे शिमला, पांचों की की गई स्वास्थ्य जांच, CMO में कहा शहर वासियों को नहीं घबराने की जरूरत।

स्वास्थ्य देखभाल सुविधा के लिए वरदान बनी हिमकेयर योजना

कैबिनेट में शराब के दाम कम करने के फैंसले पर विफरी डीवाईएफआई, बजट सत्र में विधानसभा घेराव की दी चेतावनी